मझगांव के विधायक की पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से मुलाकात: सत्य और न्याय की जीत

मझगांव के विधायक की पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से मुलाकात: सत्य और न्याय की जीत

Jun 29, 2024 - 13:11
Jun 29, 2024 - 13:57
 0  9
मझगांव के विधायक की पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से मुलाकात: सत्य और न्याय की जीत
मझगांव के विधायक की पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से मुलाकात: सत्य और न्याय की जीत

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से शनिवार को मझगांव के विधायक निरल पूर्ति ने मुलाकात की। इस दौरान विधायक ने कहा कि सत्य और न्याय को ज्यादा देर तक छुपाया नहीं जा सकता। उच्च न्यायालय के निर्णय से पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को न्याय मिला और उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया। यह मुलाकात कई राजनीतिक संदेशों और भावनाओं से भरी हुई थी, जिसमें विधायक ने अपनी बातों को बड़े ही प्रभावी ढंग से रखा।

न्यायालय का निर्णय

हेमंत सोरेन की रिहाई

उच्च न्यायालय ने झारखंड की शान और युवाओं की पहचान हेमंत सोरेन को न्याय देते हुए जमानत पर रिहा कर दिया। इस निर्णय से उनके समर्थकों और जनता में खुशी का माहौल है। विधायक पूर्ति ने इस फैसले की सराहना करते हुए कहा कि सत्य को छुपाया नहीं जा सकता और यह न्याय की जीत है।

षड्यंत्र और भाजपा

विधायक निरल पूर्ति ने भाजपा पर आरोप लगाया कि उन्होंने षड्यंत्र रचकर हेमंत सोरेन को जेल भेजने का काम किया था। उन्होंने कहा कि भाजपा ने हेमंत सोरेन की लोकप्रियता और उनके नेतृत्व में झारखंड में हो रहे विकास कार्यों को देखकर घबराकर यह कदम उठाया था।

राजनीतिक साजिश

लोकसभा चुनाव से पहले

विधायक ने कहा कि भाजपा ने लोकसभा चुनाव से पहले हेमंत सोरेन को जेल में डालने का षड्यंत्र रचा था। भाजपा को लगा था कि हेमंत सोरेन को जेल भेजकर वे झारखंड में सत्ता प्राप्त कर लेंगे, जैसा उन्होंने बिहार में किया था।

जनता का जवाब

विधायक ने बताया कि झारखंड के विधायकों ने अपनी एकता से यह साजिश नाकाम कर दी। उन्होंने चंपाई सोरेन को मुख्यमंत्री बनाकर भाजपा के सपनों को तोड़ दिया। झारखंड की जनता ने भी लोकसभा चुनाव में भाजपा को करारा जवाब दिया।

विधायक निरल पूर्ति का बयान

न्यायालय का आभार

विधायक पूर्ति ने उच्च न्यायालय का आभार प्रकट किया कि उन्होंने हेमंत सोरेन के साथ-साथ झारखंड की चार करोड़ जनता के साथ न्याय किया है। उन्होंने कहा कि हेमंत सोरेन के बाहर आने से कार्यकर्ताओं और जनता में हर्ष का माहौल है।

हेमंत सोरेन का नेतृत्व

विधायक ने हेमंत सोरेन के नेतृत्व की सराहना करते हुए कहा कि उनके नेतृत्व में झारखंड में विकास कार्य तेजी से हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि हेमंत सोरेन के बाहर आने से भाजपा का विधानसभा चुनाव में क्या हाल होगा, इसका अंदाजा आने वाले समय में लग जाएगा।

कार्यकर्ताओं और जनता का समर्थन

हर्ष का माहौल

हेमंत सोरेन की रिहाई से कार्यकर्ताओं और जनता में हर्ष का माहौल है। विधायक ने मझगांव विधानसभा, जिला और राज्य के एक-एक झामुमो कार्यकर्ता को धन्यवाद दिया। उन्होंने राज्य की जनता को भी धन्यवाद देते हुए कहा कि उनकी दुआ और प्रार्थना की वजह से हेमंत सोरेन को न्याय मिला है।

भविष्य की रणनीति

विधायक ने कहा कि अब जब हेमंत सोरेन बाहर आ गए हैं, तो विधानसभा चुनाव में भाजपा को जनता किस प्रकार सबक सिखाएगी, इसका अंदाजा आने वाले समय में लग जाएगा। उन्होंने कहा कि हेमंत सोरेन का नेतृत्व झारखंड में विकास कार्यों को और गति देगा।   हेमंत सोरेन की रिहाई और मझगांव के विधायक निरल पूर्ति की मुलाकात से स्पष्ट है कि झारखंड में राजनीतिक माहौल गर्म है। उच्च न्यायालय के निर्णय ने हेमंत सोरेन को न्याय दिलाया और उनके समर्थकों को खुशी का माहौल प्रदान किया। विधायक पूर्ति ने भाजपा पर लगाए गए आरोपों से यह साबित करने की कोशिश की कि सत्य और न्याय की हमेशा जीत होती है। आने वाले विधानसभा चुनाव में जनता का रुख क्या होगा, यह देखना दिलचस्प होगा। हेमंत सोरेन का नेतृत्व और उनकी लोकप्रियता झारखंड के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती है