सोनारी में युवक ने बेल्ट के सहारे लगायी फांसी, नशा का था आदी

सोनारी में युवक ने बेल्ट के सहारे लगायी फांसी, नशा का था आदी

Jun 20, 2024 - 14:07
Jun 20, 2024 - 14:15
 0  9
सोनारी में युवक ने बेल्ट के सहारे लगायी फांसी, नशा का था आदी
सोनारी में युवक ने बेल्ट के सहारे लगायी फांसी, नशा का था आदी

जमशेदपुर के सोनारी थाना क्षेत्र के कुंभारपाड़ा में एक युवक ने आत्महत्या कर ली। इस घटना ने पूरे इलाके में सनसनी फैला दी है। मृतक युवक का नाम अजय कुमार (33) बताया जा रहा है, जो नशे का आदी था। यह घटना बीती रात लगभग 9:45 बजे की है। अजय की मां ने उसे छत पर फांसी के फंदे पर लटका पाया। आनन-फानन में उसे टीएमएच अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस घटना से अजय के परिवार में शोक की लहर दौड़ गई है।

अजय कुमार की पारिवारिक पृष्ठभूमि

अजय कुमार के परिवार में उनके बड़े भाई और मां हैं। वह अविवाहित थे और कुछ दिनों से घर पर ही रह रहे थे। उनके बड़े भाई ने बताया कि अजय गैस सप्लाई का काम करता था, लेकिन कुछ दिनों से वह बेरोजगार थे।

मां ने दिया घटनाक्रम का विवरण

अजय की मां ने बताया कि बीती रात अजय छत पर सोने के लिए गया था। कुछ देर बाद जब वह पानी देने के लिए छत पर गईं, तो उन्होंने देखा कि अजय बेल्ट के सहारे रॉड से लटका हुआ है। इस दृश्य को देखकर वह चीख पड़ीं और तुरंत परिवार को सूचना दी।

पुलिस की कार्यवाही और पोस्टमार्टम

परिवार ने तुरंत पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। गुरुवार को पोस्टमार्टम के बाद शव को परिवार को सौंप दिया गया। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है और अजय की मौत के पीछे के कारणों का पता लगाने का प्रयास कर रही है।

नशे की लत से परेशान थे अजय

परिवार के अनुसार, अजय नशे का आदी था और उसकी इस लत के कारण ही वह मानसिक रूप से परेशान रहता था। नशे की लत ने उसकी जिंदगी को बर्बाद कर दिया था। यह भी कहा जा रहा है कि बेरोजगारी ने उसकी मानसिक स्थिति को और खराब कर दिया था।

नशे की लत: एक गंभीर समस्या

नशे की लत ने कई परिवारों को बर्बाद कर दिया है। यह समस्या युवाओं के भविष्य को अंधकारमय बना रही है। अजय की तरह कई युवक नशे की लत में पड़कर अपनी जिंदगी खत्म कर लेते हैं। समाज में इस समस्या को लेकर जागरूकता फैलाने की जरूरत है ताकि युवाओं को इस दलदल से बाहर निकाला जा सके।

नशे से कैसे बचें?

  1. जागरूकता फैलाना: नशे के दुष्प्रभावों के बारे में जागरूकता फैलाना बहुत जरूरी है। स्कूलों और कॉलेजों में इस पर कार्यक्रम आयोजित किए जाने चाहिए।
  2. परिवार का सहयोग: परिवार का सहयोग और समर्थन नशे की लत से छुटकारा पाने में बहुत मददगार हो सकता है।
  3. पेशेवर मदद: नशे की लत से परेशान लोगों को पेशेवर मदद लेनी चाहिए। काउंसलिंग और रिहैब सेंटर इस मामले में बहुत कारगर साबित हो सकते हैं।