बर्मामाइंस कैरेज कॉलोनी हत्या मामले को लेकर गुस्से में लोग, शव के साथ थाना पर किया प्रदर्शन

जमशेदपुर के बर्मामाइंस थाना क्षेत्र की कैरेज कॉलोनी में शुभम सिंह की हत्या के मामले में स्थानीय लोगों ने शव के साथ थाना पर प्रदर्शन किया। उन्होंने आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग की और पुलिस पर शिथिलता बरतने का आरोप लगाया।

Jul 10, 2024 - 17:03
Jul 10, 2024 - 17:41
 0  17
बर्मामाइंस कैरेज कॉलोनी हत्या मामले को लेकर गुस्से में लोग, शव के साथ थाना पर किया प्रदर्शन
बर्मामाइंस कैरेज कॉलोनी हत्या मामले को लेकर गुस्से में लोग, शव के साथ थाना पर किया प्रदर्शन

जमशेदपुर के बर्मामाइंस थाना क्षेत्र की कैरेज कॉलोनी में हुई शुभम सिंह की हत्या के मामले में स्थानीय लोगों में भारी आक्रोश देखा गया। हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर बस्ती के लोग शव के साथ थाना पर प्रदर्शन करने पहुंचे। उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस मामले में शिथिलता बरत रही है और आरोपियों को अब तक गिरफ्तार नहीं किया गया है।

घटना की पृष्ठभूमि और पुलिस की कार्रवाई

शुभम सिंह की मंगलवार की देर शाम गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में सागर, पवन और सलील नामक युवक को आरोपी बनाया गया है। स्थानीय लोगों का कहना है कि हत्या के बाद भी पुलिस ने किसी भी आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी नहीं की है। पुलिस को बताया गया कि आरोपी खुलेआम घूम रहे हैं और दावा कर रहे हैं कि शुभम सिंह उन्हें परेशान कर रहा था, इसलिए उसे रास्ते से हटा दिया।

स्थानीय लोगों का गुस्सा और प्रदर्शन

शुभम सिंह की हत्या के बाद से कैरेज कॉलोनी और आसपास के इलाके के लोगों में दहशत का माहौल है। स्थानीय लोगों ने बताया कि क्षेत्र में आपराधिक घटनाएं बढ़ रही हैं, लेकिन पुलिस कोई ठोस कदम नहीं उठा रही है। मुख्य आरोपी सलील, जो संतोष दास का बेटा है, को अब तक गिरफ्तार नहीं किया गया है।

परिजनों के आरोप और पुलिस का आश्वासन

शुभम सिंह के परिजनों का कहना है कि घटना फुटबॉल मैदान में नहीं, बल्कि घर के भीतर हुई है। उन्होंने आरोप लगाया कि शुभम की हत्या उसके घर में ही की गई है। प्रदर्शन के दौरान लोगों ने पुलिस पर शिथिलता बरतने का आरोप लगाया और सख्त कार्रवाई की मांग की। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को आश्वासन दिया कि मामले में सख्त कार्रवाई की जाएगी और आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा।

कैरेज कॉलोनी में शुभम सिंह की हत्या ने स्थानीय लोगों में भारी आक्रोश पैदा कर दिया है। पुलिस पर शिथिलता बरतने के आरोपों के बीच, स्थानीय लोग न्याय की मांग कर रहे हैं। यह घटना स्थानीय प्रशासन के लिए एक गंभीर चुनौती प्रस्तुत करती है, जिसमें लोगों का विश्वास बहाल करना और अपराधियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करना शामिल है।