झारखंड चुनाव 2024 : क्या झारखंड विधानसभा चुनाव अक्टूबर में होंगे? जानिए संभावित तारीखें और चरण!

झारखंड विधानसभा चुनाव अक्टूबर में होने की संभावना है। जानिए चुनाव की संभावित तारीखें, चरणों की संख्या और निर्वाचन आयोग की तैयारियों के बारे में|

Jul 11, 2024 - 16:27
 0  13
झारखंड चुनाव 2024 : क्या झारखंड विधानसभा चुनाव अक्टूबर में होंगे? जानिए संभावित तारीखें और चरण!
क्या झारखंड विधानसभा चुनाव अक्टूबर में होंगे? जानिए संभावित तारीखें और चरण!

झारखंड चुनाव 2024: झारखंड विधानसभा चुनाव अक्टूबर महीने की शुरुआत में हो सकते हैं। यह संभावना भारत निर्वाचन आयोग और राज्य मंत्रिमंडल निर्वाचन विभाग की तैयारियों से बन रही है। चुनाव दो या तीन चरणों में हो सकते हैं।

मुख्य बिंदु:

  • चुनाव की तारीखें: अक्टूबर महीने की शुरुआत में संभावित।
  • चरणों की संख्या: दो या तीन चरणों में हो सकते हैं चुनाव।
  • भारत निर्वाचन आयोग की समीक्षा: चुनाव की तैयारियों की समीक्षा के लिए भारत निर्वाचन आयोग की टीम रांची पहुंची।
  • मतदाता सूची सुधार कार्यक्रम: 25 जुलाई को मतदाता सूची का प्रारूप प्रकाशित, 20 अगस्त को अंतिम प्रकाशन।
  • अन्य राज्यों में चुनाव: हरियाणा, महाराष्ट्र और जम्मू-कश्मीर में भी इसी समय के आस-पास चुनाव होने की संभावना।

निर्वाचन आयोग की टीम का दौरा

बुधवार को भारत निर्वाचन आयोग की टीम रांची पहुंची। टीम में वरिष्ठ उप चुनाव आयुक्त धर्मेंद्र शर्मा, वरिष्ठ उप चुनाव आयुक्त नीतीश कुमार व्यास, और मुख्य सचिव अरविंद आनंद शामिल थे। टीम ने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के. रवि कुमार और अन्य अधिकारियों के साथ बैठक की।

समीक्षा बैठक

गुरुवार को टीम राज्य में मतदाता सूची के द्वितीय विशेष संक्षिप्त सुधार कार्यक्रम 2024 के तहत चल रहे कार्यों की समीक्षा करेगी। साथ ही, विधानसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा भी की जायेगी। बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पर टीम के पहुंचने पर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के. रवि कुमार, एसपीएनओ अमोल वी. होमकर, अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी नेहा अरोड़ा और रांची जिले के वरिष्ठ अधिकारियों ने उनका स्वागत किया।

अन्य राज्यों में चुनाव

हरियाणा और महाराष्ट्र में सितंबर/अक्टूबर महीने में विधानसभा चुनाव होने की संभावना है। इसके अलावा जम्मू-कश्मीर में 30 सितंबर से पहले चुनाव कराना कानूनी बाध्यता है। इन तीन राज्यों के साथ झारखंड में भी विधानसभा चुनाव कराने से समय और संसाधनों की बचत होगी।

पिछली बार के चुनाव

साल 2019 में झारखंड विधानसभा चुनाव पांच चरणों में हुए थे। बताया जा रहा है कि इस बार मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने दो या तीन चरणों में चुनाव कराने की सिफारिश की है। जल्द चुनाव पर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने कहा कि इसका जवाब तो चुनाव आयोग ही दे सकता है।