कोल्हान: विधायक सुखराम उरांव का नितिर तुरतुंग संस्था में दौरा, छात्रों से की बातचीत

कोल्हान के नितिर तुरतुंग संस्था के केएनटी स्टडी सेंटर में विधायक सुखराम उरांव ने छात्रों से मुलाकात की और उनकी समस्याओं के समाधान का आश्वासन दिया। कोल्हान के नितिर तुरतुंग संस्था के केएनटी स्टडी सेंटर में विधायक सुखराम उरांव ने छात्रों से मुलाकात की और उनकी समस्याओं के समाधान का आश्वासन दिया। कोल्हान के नितिर तुरतुंग संस्था के केएनटी स्टडी सेंटर में विधायक सुखराम उरांव ने छात्रों से मुलाकात की और उनकी समस्याओं के समाधान का आश्वासन दिया।

Jul 10, 2024 - 15:54
Jul 10, 2024 - 15:59
 0  13
कोल्हान: विधायक सुखराम उरांव का नितिर तुरतुंग संस्था में दौरा, छात्रों से की बातचीत
कोल्हान: विधायक सुखराम उरांव का नितिर तुरतुंग संस्था में दौरा, छात्रों से की बातचीत

कोल्हान के नितिर तुरतुंग संस्था द्वारा संचालित सागोम लाइब्रेरी सह केएनटी स्टडी सेंटर के सुचारू संचालन के लिए, विधायक सुखराम उरांव को टिकोरचापी स्थित केएनटी स्टडी सेंटर में आमंत्रित किया गया। इस दौरे के दौरान, श्री उरांव ने वहां पढ़ाई कर रहे छात्र-छात्राओं से मुलाकात की और उनकी पढ़ाई एवं समस्याओं के बारे में जानकारी प्राप्त की।

छात्रों से बातचीत

विधायक सुखराम उरांव ने छात्रों से सीधे बातचीत कर उनके विचारों को सुना और आश्वासन दिया कि उनकी समस्याओं का हर संभव समाधान किया जाएगा। उन्होंने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में किसी भी प्रकार की अड़चन नहीं आने दी जाएगी और सभी आवश्यक संसाधन मुहैया कराए जाएंगे।

संस्था का उद्देश्य

नितिर तुरतुंग संस्था केएनटी स्टडी सेंटर और सागोम लाइब्रेरी के माध्यम से क्षेत्र के छात्रों को बेहतर शिक्षा सुविधाएं प्रदान करने का प्रयास कर रही है। इस संस्थान का मुख्य उद्देश्य छात्रों को एक ऐसा मंच देना है, जहां वे अपनी पढ़ाई में आ रही समस्याओं का समाधान पा सकें और अपनी शिक्षा को बेहतर बना सकें।

उपस्थित गणमान्य

इस अवसर पर केएनटी महासचिव प्रेम सिंह डांगिल, सत्याजीत हेम्ब्रम, बिनोद मिंज, अंजलि बोदरा, मदन बोदरा, राहुल आदित्य सहित कई अन्य गणमान्य लोग उपस्थित रहे। सभी ने मिलकर छात्रों के हितों के लिए काम करने का संकल्प लिया।

विधायक सुखराम उरांव का यह दौरा न केवल छात्रों के लिए प्रेरणादायक साबित हुआ, बल्कि इसने क्षेत्र में शिक्षा के महत्व को भी रेखांकित किया। उम्मीद है कि इस पहल से छात्रों को बेहतर शिक्षा सुविधाएं मिलेंगी और उनकी समस्याओं का समाधान होगा।