बिहार में मानसून का कहर: वज्रपात से 12 लोगों की मौत, सीएम ने जताया दुख

बिहार में मानसून का कहर: वज्रपात से 12 लोगों की मौत, सीएम नीतीश कुमार ने जताया दुख और लोगों से सतर्क रहने की अपील की। जानें अगले पांच दिनों के मौसम का पूर्वानुमान और जारी अलर्ट।

Jul 8, 2024 - 18:09
Jul 8, 2024 - 18:11
 0  9
बिहार में मानसून का कहर: वज्रपात से 12 लोगों की मौत, सीएम ने जताया दुख
बिहार में मानसून का कहर: वज्रपात से 12 लोगों की मौत, सीएम ने जताया दुख

बिहार में मानसून ने जहां लोगों को गर्मी से राहत दी, वहीं अब यह आफत बनकर टूट पड़ा है। पिछले 24 घंटों में बिहार के सात जिलों में वज्रपात से 12 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस घटना पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए लोगों से सतर्क और सुरक्षित रहने की अपील की है।

मुख्यमंत्री की संवेदना और सहायता

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वज्रपात से हुई मौतों पर गहरी संवेदना व्यक्त की है और प्रभावित परिवारों के प्रति अपनी सहानुभूति प्रकट की है। मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, जमुई और कैमूर में तीन-तीन, रोहतास में दो, सारण, सहरसा, भोजपुर और गोपालगंज में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है। सीएम नीतीश ने मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये की अनुग्रह राशि आज ही देने के निर्देश दिए हैं।

लोगों से सतर्कता बरतने की अपील

मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की है कि खराब मौसम में पूरी तरह से सतर्कता बरतें। उन्होंने वज्रपात से बचाव के लिए आपदा प्रबंधन विभाग के समय-समय पर जारी किए गए सुझावों का पालन करने को कहा है। सीएम नीतीश ने कहा कि खराब मौसम के दौरान घरों में रहें और सुरक्षित रहें।

मौसम विभाग का पूर्वानुमान और अलर्ट

मौसम विभाग ने अगले पांच दिनों तक भारी बारिश की चेतावनी दी है। इसको लेकर येलो और ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। 8 जुलाई तक पूरे प्रदेश में झमाझम बारिश होगी। पूर्वी चंपारण, गोपालगंज, और कोसी सीमांचल के कुछ हिस्सों में अत्यधिक बारिश की संभावना है। 8 से 9 जुलाई को पश्चिम चंपारण, कैमूर और रोहतास में बारिश हो सकती है। 9 से 10 जुलाई के बीच सुपौल, अररिया, किशनगंज, मधेपुरा, पूर्णिया, कटिहार, भागलपुर में भारी बारिश की संभावना है। अन्य जिलों में हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश होगी।