नरेंद्र मोदी ने किया नालंदा विश्वविद्यालय के नए कैंपस का उद्घाटन !

नरेंद्र मोदी ने किया नालंदा विश्वविद्यालय के नए कैंपस का उद्घाटन !

Jun 19, 2024 - 13:46
Jun 22, 2024 - 00:34
 0  24
नरेंद्र मोदी ने किया नालंदा विश्वविद्यालय के नए कैंपस का उद्घाटन !
नरेंद्र मोदी ने किया नालंदा विश्वविद्यालय के नए कैंपस का उद्घाटन !

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार के राजगीर में नालंदा विश्वविद्यालय के नए परिसर का उद्घाटन किया। यह ऐतिहासिक विश्वविद्यालय, जो प्राचीन काल में शिक्षा का प्रमुख केंद्र था, अब अपने नए रूप में एक बार फिर शिक्षा और अनुसंधान के लिए तैयार है। प्रधानमंत्री मोदी ने उद्घाटन समारोह के दौरान कहा कि नालंदा विश्वविद्यालय का पुनर्निर्माण देश की प्राचीन गौरवशाली शिक्षा प्रणाली की वापसी का प्रतीक है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि नालंदा विश्वविद्यालय का नया परिसर आधुनिक सुविधाओं से लैस है और यह संस्थान छात्रों को उच्चस्तरीय शिक्षा प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने इस अवसर पर छात्रों और शिक्षकों को भी संबोधित किया और उन्हें उत्कृष्टता के लिए प्रेरित किया।

उद्घाटन समारोह में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, केंद्रीय शिक्षा मंत्री और अन्य प्रमुख गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने विश्वविद्यालय के महत्व और इसके ऐतिहासिक योगदान पर भी प्रकाश डाला। नालंदा विश्वविद्यालय का नया परिसर अब देश और दुनिया के छात्रों के लिए एक प्रमुख शैक्षिक स्थल बनने की ओर अग्रसर है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि नालंदा विश्वविद्यालय का पुनर्निर्माण केवल एक शैक्षिक संस्थान की पुनः स्थापना नहीं है, बल्कि यह भारतीय सभ्यता और संस्कृति की पुनः प्रतिष्ठा का भी प्रतीक है। उन्होंने यह भी कहा कि यह विश्वविद्यालय प्राचीन भारतीय ज्ञान परंपरा और आधुनिक शिक्षा प्रणाली के सम्मिलन का एक उत्कृष्ट उदाहरण बनेगा।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि नालंदा विश्वविद्यालय का नया परिसर राज्य के लिए गर्व का विषय है और इससे बिहार की शैक्षिक छवि को नई ऊंचाइयां मिलेंगी। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को इस महत्वपूर्ण परियोजना को साकार करने के लिए धन्यवाद दिया और कहा कि राज्य सरकार विश्वविद्यालय को हर संभव सहायता प्रदान करेगी।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने अपने भाषण में कहा कि नालंदा विश्वविद्यालय वैश्विक शिक्षा का एक महत्वपूर्ण केंद्र बनेगा और यह विदेशी छात्रों के लिए भी आकर्षण का केंद्र होगा। उन्होंने यह भी कहा कि विश्वविद्यालय में विभिन्न क्षेत्रों में अनुसंधान को प्रोत्साहित किया जाएगा, जिससे नवाचार और विकास को बढ़ावा मिलेगा।

उद्घाटन समारोह में छात्रों और शिक्षकों ने भी अपनी भावनाएं व्यक्त कीं और विश्वविद्यालय के नए परिसर में अध्ययन और अनुसंधान के अवसरों के बारे में उत्साह व्यक्त किया।

नालंदा विश्वविद्यालय का नया परिसर अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित है, जिसमें अत्याधुनिक पुस्तकालय, शोध केंद्र, प्रयोगशालाएं और आवासीय परिसर शामिल हैं। यह विश्वविद्यालय अपने छात्रों को एक समग्र शिक्षा अनुभव प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है, जो उन्हें वैश्विक नागरिक बनने के लिए तैयार करेगा।

उद्घाटन के इस अवसर ने न केवल बिहार बल्कि पूरे देश में उत्साह का माहौल पैदा कर दिया है। नालंदा विश्वविद्यालय का नया परिसर निस्संदेह भारतीय शिक्षा प्रणाली में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर साबित होगा और यह हमारे प्राचीन ज्ञान और आधुनिक विज्ञान का उत्कृष्ट संगम बनेगा।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने इस अवसर पर नालंदा विश्वविद्यालय की महत्वपूर्ण भूमिका पर चर्चा की, जिसने भारतीय शिक्षा प्रणाली में गहरी प्रभाव छोड़ा है। उन्होंने विश्वविद्यालय के नए परिसर को एक उदाहरण मानकर उसकी महत्वपूर्ण भूमिका पर बल दिया और कहा कि यह शिक्षा और संस्कृति के मंच पर एक महत्वपूर्ण कदम है।

इस उत्सव में उपस्थित विशेषज्ञों ने भी विश्वविद्यालय के नए परिसर के विभिन्न पहलुओं पर अपने विचार व्यक्त किए। वे इसे एक महत्वपूर्ण स्थल मानते हैं जहां छात्रों को वैश्विक धारा की शिक्षा प्राप्त करने का अवसर मिलेगा।

नालंदा विश्वविद्यालय का नया परिसर एक नई परंपरा की शुरुआत है, जो भारतीय सभ्यता, संस्कृति और शिक्षा को एक स्थानीय और वैश्विक मंच पर प्रस्तुत करने का उद्देश्य रखती है। इसके माध्यम से भारतीय शिक्षा प्रणाली को एक नई ऊंचाइयों तक ले जाने का प्रयास किया जा रहा है, जिससे यह विश्वविद्यालय गर्व के साथ भारतीय ज्ञान परंपरा के विकास में अपना योगदान दे सके।