कैसे झारखंड ने शिक्षा के क्षेत्र में बढ़ाई अपनी पहचान: मुख्यमंत्री की उच्च स्तरीय बैठक का खास विश्लेषण।

कैसे झारखंड ने शिक्षा के क्षेत्र में बढ़ाई अपनी पहचान: मुख्यमंत्री की उच्च स्तरीय बैठक का खास विश्लेषण।

Jun 22, 2024 - 12:05
Jun 22, 2024 - 12:14
 0  12
कैसे झारखंड ने शिक्षा के क्षेत्र में बढ़ाई अपनी पहचान: मुख्यमंत्री की उच्च स्तरीय बैठक का खास विश्लेषण।
कैसे झारखंड ने शिक्षा के क्षेत्र में बढ़ाई अपनी पहचान: मुख्यमंत्री की उच्च स्तरीय बैठक का खास विश्लेषण।

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन हाल ही में शिक्षा पर एक उच्च स्तरीय बैठक आयोजित की। इस बैठक का मुख्य उद्देश्य राज्य की शिक्षा बुनियादी संरचना और गुणवत्ता को मजबूत करने के लिए महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा करना था।

इस बैठक में सबसे ऊपरी अधिकारियों और शिक्षा विशेषज्ञों की उपस्थिति थी, जिसने पाठ्यक्रम विकास, शिक्षक प्रशिक्षण, और बुनियादी संरचना विकास में संपूर्ण सुधारों की आवश्यकता को जताया। मुख्यमंत्री सोरेन ने अपनी सरकार की प्रतिबद्धता दोहराई कि समाज के सभी वर्गों को गुणवत्ता युक्त शिक्षा प्रदान करने के लिए, विशेष रूप से संवेदनशील और वंचित समुदायों पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा।

चर्चाएं इस बारे में भी हुईं कि शिक्षा-शिक्षा की प्रक्रिया में प्रभावी तकनीक का उपयोग कैसे किया जा सकता है और झारखंड के दूरस्थ क्षेत्रों में शिक्षा संसाधनों की समान उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। मुख्यमंत्री ने सरकारी एजेंसियों, शैक्षिक संस्थानों, और हितधारकों के बीच सहयोगी प्रयासों की महत्वपूर्णता को दर्शाया और स्थायी शिक्षा विकास को प्राप्त करने के लिए इस प्रक्रिया में भागीदारी की आवश्यकता को जताया।

इस पहल के जरिए राज्य सरकार ने शिक्षा मानकों में सुधार के प्रति अपने सक्रिय उपायों को प्रमोट किया है और झारखंड के छात्रों के लिए एक उत्तेजना सृजित की है।