जमशेदपुर में ग्रामीणों का विरोध: सीतारामडेरा कुआं मैदान में भवन निर्माण का काम बंद

जमशेदपुर में ग्रामीणों का विरोध: सीतारामडेरा कुआं मैदान में भवन निर्माण का काम बंद

Jun 26, 2024 - 13:18
Jun 26, 2024 - 13:21
 0  9
जमशेदपुर में ग्रामीणों का विरोध: सीतारामडेरा कुआं मैदान में भवन निर्माण का काम बंद
जमशेदपुर में ग्रामीणों का विरोध: सीतारामडेरा कुआं मैदान में भवन निर्माण का काम बंद

जमशेदपुर के सीतारामडेरा क्षेत्र में स्थित कुआं मैदान में भवन निर्माण को लेकर ग्रामीणों ने बुधवार को विरोध प्रदर्शन किया। इस विरोध के चलते भवन निर्माण का कार्य फिलहाल रोक दिया गया है। इस मैदान को बच्चों के खेलने के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है और ग्रामीण इसे संरक्षित रखना चाहते हैं।

घटना का विवरण

भवन निर्माण और विरोध

सीतारामडेरा के कुआं मैदान में श्रम विभाग की ओर से भवन निर्माण का कार्य चल रहा था। इस काम के लिए जेसीबी मशीन का उपयोग किया जा रहा था, जिससे काम तेजी से हो रहा था। लेकिन स्थानीय ग्रामीणों ने इसका कड़ा विरोध किया और काम को बंद कराने में सफल रहे।

विरोध के कारण

ग्रामीणों का कहना है कि यह मैदान बच्चों के खेलने का एकमात्र स्थान है और इसे भवन निर्माण के लिए इस्तेमाल करना गलत है। अमन कुमार पाथ ने बताया कि उन्होंने पहले ही उपायुक्त और धालभूम अनुमंडल पदाधिकारी को पत्र लिखकर काम रुकवाने का अनुरोध किया था। चुनाव समाप्त होते ही श्रम विभाग ने फिर से काम शुरू कर दिया, जिससे बस्तीवासियों ने विरोध जताया।

प्रशासन की प्रतिक्रिया

दंडाधिकारी का बयान

इस मामले में प्रशासन की ओर से प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी गोपाल कुमार ने कहा कि श्रम विभाग की ओर से बिल्डिंग निर्माण कराया जा रहा है, लेकिन ग्रामीणों के विरोध के कारण काम फिलहाल रोक दिया गया है। उन्होंने यह भी कहा कि प्रशासन इस मामले को गंभीरता से ले रहा है और सभी पक्षों को ध्यान में रखते हुए निर्णय लिया जाएगा।

ग्रामीणों की मांग

खेल मैदान की सुरक्षा

ग्रामीणों की प्रमुख मांग है कि कुआं मैदान को बच्चों के खेलने के लिए संरक्षित रखा जाए और यहां कोई भी निर्माण कार्य न हो। वे चाहते हैं कि प्रशासन उनकी बात सुने और इस जगह को खेल मैदान के रूप में बनाए रखने के लिए कदम उठाए।

प्रशासन से अपील

ग्रामीणों ने प्रशासन से अपील की है कि वे इस मुद्दे को गंभीरता से लें और बच्चों के खेलने के मैदान को सुरक्षित रखें। उन्होंने कहा कि इस मैदान का इस्तेमाल पीढ़ियों से खेलकूद के लिए होता आ रहा है और इसे संरक्षित रखना बेहद जरूरी है।

भविष्य की दिशा

संवाद और समाधान

प्रशासन को ग्रामीणों के साथ संवाद करके इस समस्या का समाधान निकालना चाहिए। किसी भी निर्माण कार्य से पहले स्थानीय निवासियों की राय को महत्व देना आवश्यक है। इससे न केवल समस्या का हल निकलेगा, बल्कि भविष्य में इस तरह के विवाद भी कम होंगे।

सामुदायिक निर्णय

इस प्रकार के विवादों को सामुदायिक निर्णय के माध्यम से हल किया जाना चाहिए। सभी संबंधित पक्षों को एक साथ लाकर उनकी राय जानने और समझौता करने का प्रयास करना चाहिए। इससे समाज में एकता और सहयोग की भावना बनी रहेगी।

निष्कर्ष

जमशेदपुर के सीतारामडेरा क्षेत्र में कुआं मैदान में भवन निर्माण का ग्रामीणों द्वारा विरोध एक महत्वपूर्ण मुद्दा है। इस विरोध के चलते काम फिलहाल रोक दिया गया है। ग्रामीणों का कहना है कि यह मैदान बच्चों के खेलने का एकमात्र स्थान है और इसे संरक्षित रखना चाहिए। प्रशासन को इस मुद्दे को गंभीरता से लेकर सभी पक्षों को साथ लेकर समाधान निकालना चाहिए, ताकि समाज में शांति और सहयोग बना रहे।