जमशेदपुर मानगो सफाइकर्मियों का वेतन विवाद: नगर निगम में प्रदर्शन

जमशेदपुर मानगो सफाइकर्मियों का वेतन विवाद: नगर निगम में प्रदर्शन

Jun 26, 2024 - 13:34
Jun 26, 2024 - 13:39
 0  12
जमशेदपुर मानगो सफाइकर्मियों का वेतन विवाद: नगर निगम में प्रदर्शन
जमशेदपुर मानगो सफाइकर्मियों का वेतन विवाद: नगर निगम में प्रदर्शन

जमशेदपुर के मानगो इलाके में सफाइकर्मियों ने अपने तीन माह से रुके हुए वेतन के शीघ्र भुगतान की मांग को लेकर नगर निगम में प्रदर्शन किया। सफाइ ऑपरेटर मुकेश लोहरा के नेतृत्व में यह प्रदर्शन किया गया, जिसमें अन्य शौचालय सफाइकर्मी भी शामिल थे। वेतन न मिलने के कारण इन कर्मियों को गंभीर आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।

प्रदर्शन का कारण

सफाइ ऑपरेटर मुकेश लोहरा ने बताया कि उलीडीह कालिंदी बस्ती में स्थित सरकारी शौचालयों की देखभाल और सफाई का काम ये सभी सफाइकर्मी करते हैं। लेकिन तीन महीनों से ठेकेदार गणेश कुमार ने उन्हें वेतन नहीं दिया है। जब भी वेतन की मांग की जाती है, तो उन्हें मना कर दिया जाता है।  सफाइकर्मियों का कहना है कि वे पहले ही अपने पैसे से शौचालय की मरम्मत और मोटर की खरीद के लिए खर्च कर चुके हैं। उन्होंने 1700 रुपये मोटर और 1300 रुपये मरम्मत पर खर्च किए हैं, लेकिन अभी भी उनका बकाया वेतन नहीं मिला है। 

नगर निगम का रुख

सफाइकर्मियों का आरोप है कि जब तक नगर निगम के अन्य कर्मचारी अपर नगर आयुक्त रंजीत लोहरा से नहीं मिलते, तब तक उन्हें वेतन नहीं दिया जाता है। इस रवैये से सफाइकर्मियों में नाराजगी है और वे जल्द से जल्द अपने वेतन की मांग कर रहे हैं।

सफाइ ऑपरेटर मुकेश लोहरा ने कहा कि नगर निगम के उच्च अधिकारियों से मिलकर उन्होंने वेतन की समस्या को उठाया है। उनका कहना है कि इन सफाइकर्मियों के बिना शहर की सफाई व्यवस्था चरमरा जाएगी, इसलिए उनके वेतन का शीघ्र भुगतान किया जाना चाहिए।

सफाइकर्मियों की मांग

सफाइकर्मियों की प्रमुख मांग है कि उन्हें जल्द से जल्द उनका रुका हुआ वेतन दिया जाए। तीन महीनों से वेतन न मिलने के कारण उनके सामने आर्थिक संकट खड़ा हो गया है।  सफाइकर्मियों का यह भी कहना है कि ठेकेदार गणेश कुमार को जवाबदेह ठहराया जाए और उनके बकाया वेतन का तुरंत भुगतान किया जाए। ठेकेदार द्वारा लगातार वेतन न देने के कारण वे मानसिक और आर्थिक तनाव में हैं।

नगर निगम के अधिकारियों का कहना है कि वे इस समस्या का समाधान जल्द से जल्द निकालने का प्रयास कर रहे हैं। सफाइकर्मियों की समस्या को गंभीरता से लिया जा रहा है और उनके वेतन का भुगतान शीघ्र करने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं।  नगर निगम के अन्य कर्मचारी और स्थानीय प्रशासन भी सफाइकर्मियों के समर्थन में आ गए हैं। उनका कहना है कि सफाइकर्मियों की मेहनत और योगदान को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता और उनके वेतन का शीघ्र भुगतान होना चाहिए। जमशेदपुर के मानगो इलाके के सफाइकर्मियों ने तीन माह से रुके हुए वेतन के शीघ्र भुगतान की मांग को लेकर नगर निगम में प्रदर्शन किया। इन सफाइकर्मियों का कहना है कि ठेकेदार गणेश कुमार द्वारा उन्हें वेतन नहीं दिया जा रहा है, जिससे वे आर्थिक संकट में हैं। नगर निगम के अधिकारियों ने इस समस्या का शीघ्र समाधान निकालने का आश्वासन दिया है। सफाइकर्मियों के समर्थन में अन्य कर्मचारी और स्थानीय प्रशासन भी हैं, जो उनके वेतन के शीघ्र भुगतान की मांग कर रहे हैं।