माओवादी हमले से झटका खाने वाले कोल्हान क्षेत्र: सुरक्षा बलों की तैयारियां तेज

कोल्हान क्षेत्र में भाकपा माओवादियों द्वारा आयोजित एक दिवसीय बंद ने जनजीवन को पूरी तरह से अस्त-व्यस्त कर दिया

Jul 10, 2024 - 13:23
Jul 10, 2024 - 13:26
 0  10
माओवादी हमले से झटका खाने वाले कोल्हान क्षेत्र: सुरक्षा बलों की तैयारियां तेज
माओवादी हमले से झटका खाने वाले कोल्हान क्षेत्र: सुरक्षा बलों की तैयारियां तेज

बुधवार को कोल्हान क्षेत्र में भाकपा माओवादियों द्वारा आयोजित एक दिवसीय बंद का व्यापक असर देखने को मिला। इस बंद से आम जनजीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया। हालाँकि, माओवादियों ने प्रेस की गाड़ियां, एंबुलेंस, दूध सप्लाई और अस्पताल की आपातकालीन सेवाओं को बंद से मुक्त रखा था।

बंद के दौरान की घटनाएं

बंद के दौरान, भाकपा माओवादियों ने हावड़ा-मुंबई मुख्य रेल मार्ग पर मनोहरपुर और जराईकेला स्टेशन के बीच थर्ड रेल लाइन के पास नक्सली बैनर लगाए। इन बैनरों की जानकारी मनोहरपुर स्टेशन प्रबंधक को दोपहर 2:40 बजे मिली। तत्पश्चात, मनोहरपुर पुलिस, रेल सुरक्षा बल और सीआरपीएफ (कोबरा) जवानों ने सुबह 5:30 बजे बैनरों को हटा दिया।

नक्सली बैनरों का संदेश

बैनरों में लोबादा, कोल्हान-सारंडा (लिपुंगा) में हुए बर्बर पुलिसिया नरसंहार के खिलाफ 10 जुलाई 2024 को एक दिवसीय कोल्हान प्रमंडल बंद करने का ऐलान किया गया था। इस बंद के कारण हावड़ा-मुंबई रूट में रेल यात्री और गुड्स ट्रेनों का परिचालन करीब तीन घंटे देरी से शुरू हुआ।

यातायात और जनजीवन पर असर

मनोहरपुर में बंद के दौरान सभी सरकारी और गैर-सरकारी प्रतिष्ठान बंद रहे। लंबी दूरी और लोकल स्तर पर यात्री वाहनों और मालवाहक वाहनों का परिचालन पूरी तरह से बाधित रहा, जिससे आम लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा। सड़कों पर सन्नाटा छाया रहा और आम जनजीवन पूरी तरह से प्रभावित हुआ।

पुलिस प्रशासन की सतर्कता

बंद के दौरान, मनोहरपुर सर्किल के अंतर्गत आने वाले सभी थाना क्षेत्रों में पुलिस प्रशासन, सीआरपीएफ (कोबरा) और रेल सुरक्षा बल के जवान पूरी तरह से मुस्तैद रहे। उन्होंने किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए चाक-चौबंद इंतजाम किए थे।