जमशेदपुर टाटा स्टील के क्वार्टर का मलबा गिरा

जमशेदपुर हादसा: बर्मामाइंस में टूट रहे टाटा स्टील के क्वार्टर के मलबे में दबे दो युवक, मलबे से सामान निकालने के दौरान हुआ हादसा

Jun 30, 2024 - 16:39
 0  17
जमशेदपुर  टाटा स्टील के क्वार्टर का मलबा गिरा
टाटा स्टील के क्वार्टर का मलबा गिरा

टाटा स्टील के क्वार्टर का मलबा गिरा

जमशेदपुर के बर्मामाइंस थाना क्षेत्र में रविवार की तड़के एक गंभीर हादसा हुआ। लिंडे कंपनी के समीप टाटा स्टील के पुराने क्वार्टर को तोड़ा जा रहा था, जब अचानक मकान का मलबा गिर गया। इस मलबे के नीचे दो युवक दब गए।

मलबे में दबे युवक

स्थानीय लोगों की मानें तो दोनों युवक कबाड़ चुनने के लिए मलबे के ढेर के पास गए थे। हादसा उस समय हुआ जब मकान का आधा हिस्सा भरभराकर गिर गया। बताया जा रहा है कि इन युवकों में से एक का नाम डोमन सिंह है। इस हादसे में एक युवक तो बच निकला लेकिन दूसरा युवक अभी भी मलबे के भीतर फंसा हुआ है।

रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

सूचना मिलते ही बर्मामाइंस थाना की पुलिस मौके पर पहुंची और स्थानीय लोगों के सहयोग से रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया। पुलिस और स्थानीय लोगों की टीम मलबे में फंसे युवक को निकालने की पूरी कोशिश कर रही है। एक घायल युवक को इलाज के लिए एमजीएम अस्पताल ले जाया गया है।

हादसे की जांच

पुलिस मामले की जांच कर रही है कि हादसा कैसे हुआ। यह भी देखा जा रहा है कि कहीं सुरक्षा मानकों की अनदेखी तो नहीं की गई थी, जिससे यह हादसा हुआ।

स्थानीय लोगों की प्रतिक्रिया

स्थानीय लोग इस हादसे से काफी चिंतित हैं। उनका कहना है कि पुराने मकानों को तोड़ते समय सावधानी बरतनी चाहिए थी। इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए भविष्य में कड़े कदम उठाने की मांग की जा रही है।

समाज के प्रति अपील

यह घटना एक महत्वपूर्ण चेतावनी है कि पुराने मकानों को तोड़ते समय सुरक्षा मानकों का पालन किया जाना चाहिए। प्रशासन और जनता को मिलकर ऐसे कदम उठाने होंगे जिससे भविष्य में इस तरह के हादसों से बचा जा सके।


यह घटना सुरक्षा मानकों की अनदेखी के गंभीर परिणामों को उजागर करती है। प्रशासन को इस दिशा में ठोस कदम उठाने होंगे ताकि भविष्य में इस तरह के हादसे न हों।