मुसाबनी माइंस लेबर यूनियन का प्रतिनिधिमंडल: क्या मिलेगा मजदूरों का बकाया?

मुसाबनी माइंस लेबर यूनियन ने एचसीएल/आइसीसी के कार्यकारी निदेशक से मुलाकात कर मजदूरों के बकाया व अन्य समस्याओं पर चर्चा की। जानें क्या रहे बैठक के मुख्य मुद्दे।

Jul 6, 2024 - 19:01
 0  10
मुसाबनी माइंस लेबर यूनियन का प्रतिनिधिमंडल: क्या मिलेगा मजदूरों का बकाया?
मुसाबनी माइंस लेबर यूनियन का प्रतिनिधिमंडल: क्या मिलेगा मजदूरों का बकाया?

जमशेदपुर: मुसाबनी माइंस लेबर यूनियन का एक प्रतिनिधिमंडल अध्यक्ष अखिलेश्वर सिंह तथा महामंत्री सनत कालटू चक्रवर्ती के नेतृत्व में एचसीएल/आइसीसी के कार्यकारी निदेशक श्यामसुंदर सेठी से मिला। इस दौरान मुख्य रूप से मुसाबनी माइंस वेलफेयर फंड के बकाया मजदूरों को होने वाले भुगतान में हो रहे विलंब को दुरूस्त करने, मजदूरों तथा क्षेत्र के भविष्य के लिए माइंस एवं मऊभंडार कॉपर प्लांट का संचालन सुचारू रूप से कराने, क्वार्टर लीज नवीकरण, टाउनशिप की मूलभूत सुविधाओं की समस्या को दूर कराने सहित अन्य मुद्दों पर भी विस्तार से चर्चा की गई।

वार्ता के दौरान श्री सेठी ने यूनियन की बातों को गंभीरता से लेते हुए कहा कि कंपनी और प्लांट के भविष्य को लेकर वे प्रयासरत हैं। उन्होंने आश्वासन दिया कि एचसीएल मुख्यालय और केन्द्रीय मंत्रालय को यूनियन की बातों से अवगत कराएंगे। यूनियन के अध्यक्ष अखिलेश्वर सिंह ने भरोसा दिलाया कि माइंस एवं प्लांट के संचालन के लिए यूनियन हमेशा प्रबंधन का सहयोग करती रहेगी।

इस अवसर पर पीटर दास, राजेंद्र पांडे, मकरा पातर, सिकंदर शाह, पूर्णचंद्र भगत, राम सुंदर राम सहित अन्य उपस्थित थे।

क्या मिलेगी मजदूरों को राहत?

यह देखना महत्वपूर्ण होगा कि इस बैठक के बाद मजदूरों के बकाया भुगतान और अन्य समस्याओं का समाधान कितनी जल्दी और प्रभावी ढंग से होता है। यूनियन और प्रबंधन के बीच इस तरह की वार्ताएं मजदूरों के हित में महत्वपूर्ण कदम साबित हो सकती हैं।