सिदगोड़ा सूर्य मंदिर समिति उड़ा रहे अफवाह, प्रशासन सरकारी जमीन को कब्जामुक्त कराने में विफल, विधायक सरयू राय ने लगाया बड़ा आरोप, कहा – इसकी आड़ में जमीन को हड़पना चाहता है सूर्य मंदिर समिति

सिदगोड़ा सूर्य मंदिर समिति उड़ा रहे अफवाह, प्रशासन सरकारी जमीन को कब्जामुक्त कराने में विफल, विधायक सरयू राय ने लगाया बड़ा आरोप, कहा – इसकी आड़ में जमीन को हड़पना चाहता है सूर्य मंदिर समिति

Jun 26, 2024 - 18:38
 0  8
सिदगोड़ा सूर्य मंदिर समिति उड़ा रहे अफवाह, प्रशासन सरकारी जमीन को कब्जामुक्त कराने में विफल, विधायक सरयू राय ने लगाया बड़ा आरोप, कहा – इसकी आड़ में जमीन को हड़पना चाहता है सूर्य मंदिर समिति
सिदगोड़ा सूर्य मंदिर समिति उड़ा रहे अफवाह, प्रशासन सरकारी जमीन को कब्जामुक्त कराने में विफल, विधायक सरयू राय ने लगाया बड़ा आरोप, कहा – इसकी आड़ में जमीन को हड़पना चाहता है सूर्य मंदिर समिति

 जमशेदपुर पूर्वी के विधायक सरयू राय ने सिदगोड़ा सूर्य मंदिर समिति पर लगाया गंभीर आरोप

जमशेदपुर पूर्वी के विधायक सरयू राय ने जमशेदपुर के सिदगोड़ा सूर्य मंदिर समिति के अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह और संरक्षक चंद्रगुप्त सिंह के खिलाफ गंभीर आरोप लगाए हैं। एक संवाददाता सम्मेलन में श्री राय ने बताया कि सूर्य मंदिर समिति के अध्यक्ष और संरक्षक अफवाह फैला रहे हैं और जमीन को हड़पना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि ये लोग शंख मैदान को सूर्य मंदिर परिसर का हिस्सा बताकर लोगों को भ्रमित कर रहे हैं।

## आरोपों का विवरण

### मंदिर की आड़ में जमीन हड़पने का प्रयास

श्री राय ने बताया कि सिदगोड़ा सूर्य मंदिर के अध्यक्ष और संरक्षक लंबे समय से यह अफवाह फैला रहे हैं कि शंख मैदान सूर्य मंदिर परिसर का हिस्सा है। उन्होंने दावा किया कि वे इस धार्मिक स्थल पर बास्केटबॉल कोर्ट सहित कई विकास कार्य कराना चाहते हैं, लेकिन सच्चाई यह है कि शंख मैदान और सूर्य मंदिर दोनों अलग-अलग इकाइयां हैं। 

### बाउंड्रीवाल का निर्माण और तोड़फोड़

श्री राय ने जानकारी दी कि शंख मैदान और सूर्य मंदिर के बीच बाउंड्रीवाल का निर्माण 3 दिसंबर 2022 और 10 मार्च 2022 के बीच तत्कालीन सांसद महेश पोद्दार की सांसद निधि से किया गया था। इसके लिए 13,15,955 रुपये खर्च किए गए थे। इस बाउंड्रीवाल को सूर्य मंदिर समिति के लोगों ने 12 अप्रैल 2024 को तोड़ दिया, जिसके विरुद्ध जमशेदपुर अक्षेस ने सिदगोड़ा थाना में 14 अप्रैल 2024 को प्राथमिकी दर्ज कराई।

### विकास कार्यों में बाधा

श्री राय ने कहा कि उन्होंने अपने विधायक निधि से शंख मैदान का सौंदर्यीकरण कराने, पार्क में बेंच लगाने और शंखों को उचित स्थान पर रखने के लिए अनुशंसा की थी। लेकिन सूर्य मंदिर समिति के अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह और संरक्षक चंद्रगुप्त सिंह ने इन कार्यों को नहीं होने दिया। उन्होंने अफवाह फैलाई कि श्री राय शंख मैदान में बास्केटबॉल और कबड्डी का कोर्ट बनाकर धार्मिक आस्था पर प्रहार कर रहे हैं।

## जिला प्रशासन की निष्क्रियता

श्री राय ने आरोप लगाया कि जिला प्रशासन सरकारी संपत्ति की रक्षा करने में विफल साबित हुआ है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन को सूर्य मंदिर समिति द्वारा फैलाए जा रहे अफवाहों का खंडन करना चाहिए था, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। 

## धार्मिक आयोजन की जानकारी

श्री राय ने पत्रकारों को जानकारी दी कि जमशेदपुर के गोलमुरी स्थित केबुल टाउन के श्री लक्ष्मीनारायण मंदिर में श्री लक्ष्मीनारायण प्राण प्रतिष्ठा महायज्ञ का कार्यक्रम 3 जुलाई से 7 जुलाई तक होगा। श्री नारायण, लक्ष्मी जी, हनुमान जी और गणेश जी की प्रतिमाएं जयपुर से आ चुकी हैं। मां काली और शिव दरबार की प्रतिमाएं भी जल्द ही यहां पहुंच जाएंगी। सभी प्रतिमाओं की प्राण-प्रतिष्ठा 7 जुलाई को होगी।

## निष्कर्ष

श्री राय ने स्पष्ट किया कि वे इस मुद्दे को यूं ही नहीं छोड़ेंगे और आवश्यक कानूनी कार्रवाई करेंगे। उन्होंने जिला प्रशासन से मांग की है कि वह सरकारी संपत्ति की सुरक्षा के लिए त्वरित और सख्त कदम उठाए।