जमशेदपुर: 11 वर्षीय बच्चे की संदिग्ध मृत्यु, इलाके में शोक का माहौल

जमशेदपुर के मानगो के आनंद बिहार कॉलोनी में कुलदीप गुप्ता के 11 वर्षीय बेटे नेहाल की संदिग्ध परिस्थितियों में मृत्यु हो गई। जानिए पूरी खबर और घटनाक्रम।

Jul 7, 2024 - 23:42
 0  17
जमशेदपुर: 11 वर्षीय बच्चे की संदिग्ध मृत्यु, इलाके में शोक का माहौल
जमशेदपुर: 11 वर्षीय बच्चे की संदिग्ध मृत्यु, इलाके में शोक का माहौल

जमशेदपुर के मानगो के आनंद बिहार कॉलोनी में रहने वाले कुलदीप गुप्ता के 11 वर्षीय बेटे नेहाल गुप्ता की संदिग्ध परिस्थितियों में मृत्यु हो गई। इस घटना से पूरे इलाके में शोक का माहौल है। भाजपा नेता विकास सिंह ने देर रात कुलदीप गुप्ता के घर जाकर मामले की जानकारी ली और शोक प्रकट किया।

घटनाक्रम:

मृतक के दादा ने बताया कि शुक्रवार की सुबह कुलदीप गुप्ता अपने बेटे नेहाल गुप्ता और बेटी के साथ नाश्ता कर रहे थे। नाश्ते के बाद नेहाल ने पिताजी से आम खाने की बात कही, जिसके बाद कुलदीप गुप्ता नेहाल को बाजार ले जाकर आम और केला खरीदकर घर में छोड़ दिया और पढ़ने की बात कहकर अपने काम पर चले गए।

नेहाल अपनी मां को कुछ देर घर के सामने सड़क पर अपने दोस्तों के साथ क्रिकेट खेलने की बात कहकर खेलने चला गया। खेलते समय बॉल रमेश यादव के खटाल में चली गई। बॉल लाने के लिए नेहाल ने लोहे के गेट को फांदने का प्रयास किया। गेट पर चढ़ते समय नेहाल का एक पैर खटाल की ओर और दूसरा पैर सड़क की ओर था। वह गेट पर फंस गया और हिलडुल नहीं पा रहा था।

करीब 15-20 मिनट तक नेहाल गेट पर ही लटका रहा। उसके साथ खेल रहे लड़के उसे छोड़कर भाग गए। पास की एक महिला ने जब देखा कि नेहाल गेट पर लटका हुआ है और हिलडुल नहीं रहा है, तो उसने आस-पड़ोस के लोगों को बुलाया। नेहाल की मां और पड़ोसियों ने मिलकर उसे गेट से उतारा और आनन-फानन में टाटा मुख्य अस्पताल लेकर गए, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

मृत्यु के कारण:

घटना कैसे घटी, यह अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है। गेट में बिजली की धारा कैसे प्रवाहित हुई, यह भी समझ से बाहर है। मौके पर पहुंचे भाजपा नेता विकास सिंह ने देखा कि रमेश यादव के खटाल के ठीक ऊपर हाई टेंशन की तार गुजर रही है, जो काफी कम दूरी पर है। कुछ लोग दावा कर रहे हैं कि रमेश यादव अपने खटाल में लगे गेट को करंट प्रभावित कर देता था ताकि उसकी गायें चोरी न हों। यह सच्चाई जांच का विषय है।

नेहाल गुप्ता विकास विद्यालय में कक्षा 6 का छात्र था। इस घटना ने पूरे इलाके को गमगीन कर दिया है और लोग नेहाल की मौत को लेकर सवाल उठा रहे हैं।