इंजीनियरिंग स्टूडेंट की हत्या लूट का विरोध करने पर: पुलिस ने पांच लूटेरों को गिरफ्तार किया

21 जून को धनबाद में इंजीनियरिंग छात्र अमरदीप भगत की लूट का विरोध करने पर हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने इस मामले में पांच लूटेरों को गिरफ्तार कर लिया है। इस लेख में घटना का पूरा विवरण और पुलिस की जांच की जानकारी दी गई है।

Jul 2, 2024 - 12:28
 0  11
इंजीनियरिंग स्टूडेंट की हत्या लूट का विरोध करने पर: पुलिस ने पांच लूटेरों को गिरफ्तार किया
इंजीनियरिंग स्टूडेंट की हत्या लूट का विरोध करने पर: पुलिस ने पांच लूटेरों को गिरफ्तार किया

धनबाद।   21 जून की घटना ने धनबाद को हिला कर रख दिया। एक युवा इंजीनियरिंग छात्र अमरदीप भगत की हत्या ने सबको सदमे में डाल दिया। पुलिस ने इस मामले में तेजी से कार्रवाई करते हुए पांच लूटेरों को गिरफ्तार किया है।

अमरदीप भगत, जो एक उज्ज्वल भविष्य की ओर अग्रसर थे, उनकी बेरहमी से हत्या कर दी गई। इस हत्या ने पूरे क्षेत्र में दहशत फैला दी है। पुलिस ने घटना की जांच शुरू की और जेसी मल्लिक रोड के रहने वाले आकाश राम नाम के आरोपी को सबसे पहले गिरफ्तार किया। आकाश राम ने अपने चार साथियों के साथ मिलकर इस वारदात को अंजाम दिया। पुलिस ने धनबाद, बोकारो और कोलकाता से सभी आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आकाश राम ने पूछताछ में बताया कि उन्होंने अमरदीप को लूटने की योजना बनाई थी। जब अमरदीप ने विरोध किया, तो उसे गोली मार दी। अन्य आरोपियों ने भी अपना गुनाह कबूल कर लिया है। उन्होंने बताया कि वे सभी छिनतई और हत्या की वारदात को अंजाम देने के लिए निकले थे।

घटना के दिन लॉ कॉलेज के पास का माहौल सामान्य था। कोई भी इस तरह की घटना की उम्मीद नहीं कर रहा था। लूटपाट और हत्या की योजना बनाई गई थी। अमरदीप को निशाना बनाने के बाद उन्होंने उसे लूटने का प्रयास किया। जब उसने विरोध किया, तो उसे गोली मार दी। पुलिस ने आरोपियों के पास से देसी कट्टा, एक पिस्टल और चार जिन्दा कारतूस बरामद किए हैं। आरोपियों के पास से लूटी गई मोबाइल, सोने की अंगूठी, पर्स और दो बाइक भी बरामद की गई हैं।

सभी आरोपी धनबाद के निवासी हैं। उनके अपराधी गतिविधियों का इतिहास रहा है। इन सभी आरोपियों का अपराधी गतिविधियों में शामिल रहना कोई नई बात नहीं है। उन्होंने पहले भी कई वारदातों को अंजाम दिया है। पुलिस अन्य संभावित आरोपियों की तलाश में है। वे इस मामले को पूरी तरह से सुलझाने की कोशिश कर रहे हैं। पुलिस ने इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए कई उपाय किए हैं। उन्होंने क्षेत्र में सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ाया है।

स्थानीय समुदाय इस घटना से काफी आक्रोशित है। वे सुरक्षा व्यवस्था को लेकर चिंतित हैं। इस घटना के बाद शिक्षा संस्थानों की सुरक्षा पर सवाल उठने लगे हैं। लोगों का मानना है कि छात्रों की सुरक्षा प्राथमिकता होनी चाहिए।

अमरदीप एक होनहार छात्र थे। उनका व्यक्तिगत जीवन और शिक्षा दोनों ही बहुत ही प्रेरणादायक थे। अमरदीप के कई सपने थे। वह एक सफल इंजीनियर बनना चाहते थे और अपने परिवार का नाम रोशन करना चाहते थे। अमरदीप के परिवार ने इस घटना पर गहरा दुःख जताया है। उनकी पीड़ा को शब्दों में बयान करना मुश्किल है।

परिवार ने न्याय की मांग की है। वे चाहते हैं कि दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिले। पुलिस ने घटना के बाद कई कदम उठाए हैं। उन्होंने सुरक्षा व्यवस्था को और मजबूत किया है। घटना के बाद सुरक्षा व्यवस्था में कई बदलाव किए गए हैं। पुलिस ने छात्रों की सुरक्षा को प्राथमिकता दी है।    आरोपियों के खिलाफ कानूनी प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। उन्हें कड़ी सजा मिलने की संभावना है। आरोपियों को उनके अपराध के लिए कड़ी सजा मिलने की उम्मीद है। उन्हें जेल भेजा जाएगा।